Menu

Meena Kumari Biography in Hindi | मीना कुमारी जीवन परिचय

 

मीना कुमारी 3

विज्ञापन

जीवन परिचय
वास्तविक नाम महजबीं बानो
उपनाम मीना कुमारी, ट्रैजेडी क्वीन
व्यवसाय अभिनेत्री, गायिका, कवयित्री, परिधान डिजाइनर
व्यक्तिगत जीवन
जन्मतिथि 1 अगस्त 1932
जन्मस्थान दादर पूर्व, बॉम्बे, ब्रिटिश भारत (वर्तमान-मुंबई, भारत)
मृत्युतिथि 31 मार्च 1972
मृत्यु स्थान मुंबई, महाराष्ट्र, भारत
आयु (मृत्यु के समय)39 वर्ष
मृत्यु कारण लीवर सिरोसिस
राशि सिंह
हस्ताक्षर मीना कुमारी हस्ताक्षर
राष्ट्रीयता भारतीय
गृहनगर दादर पूर्व, बॉम्बे, ब्रिटिश भारत (वर्तमान-मुंबई, भारत)
डेब्यू फिल्म (अभिनेत्री)- फिल्म - फ़रज़न्दे (1939)
मीना कुमारी फिल्म - फ़रज़न्दे (1939) में
पार्श्व गायिका के रूप में - फिल्म - सिस्टर/बहन (1945)
मीना कुमारी पार्श्व गायिका के रूप में फिल्म - सिस्टर/बहन (1945)
पुरस्कार• वर्ष 1966 में, उन्हें फिल्म काजल के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के रूप में फिल्मफेयर पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।
मीना कुमारी फिल्मफेयर पुरस्कार के साथ
• वर्ष 1966 में, उन्हें फिल्म काजल में सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के रूप में फिल्मफेयर पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।
• मीना कुमारी को बंगाल फिल्म पत्रकार एसोसिएशन पुरस्कार (बीएफजेए) से भी सम्मानित किया गया।
• मीना कुमारी एकमात्र ऐसी अभिनेत्री थीं, जिन्होंने लगातार 13 वर्ष तक सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के फिल्मफेयर ख़िताब को अपने नाम किया था, लेकिन वर्ष 1979 में नूतन ने फिल्मफेयर के ख़िताब को अपने नाम कर रिकॉर्ड को तोड़ दिया।
परिवार पिता - अली बक्श (रंगमंच कलाकार और संगीतकार)
मीना कुमारी अपने पिता के साथ
माता - प्रभावती देवी उर्फ़ इकबाल बानो (नृत्यांगना)
मीना कुमारी की माँ
भाई - कोई नहीं
बहन- खुर्शीद बानो (बड़ी), मधु (छोटी)
मीना कुमारी अपनी बहनों के साथ
धर्म इस्लाम
शौक/अभिरुचिनृत्य करना और गायन करना
विवाद मीना कुमारी ने भी तीन तलाक और हलाला जैसी प्रथाओं का सामना किया। जिसके तहत उनके पति फिल्म पाकीजा के निर्देशक कमाल अमरोही ने गुस्से में मीना कुमारी को तीन बार तलाक कहा और उनका तलाक हो गया। बाद में कमाल अमरोही को अपने किए का पछतावा हुआ तो उन्होंने मीना कुमारी से दोबारा निकाह करना चाहा, लेकिन इस्लाम धर्म गुरुओं ने निकाह नहीं होने दिया और मीना को "हलाला" प्रथा को अपनाने को कहा। जिससे कमाल अमरोही ने उनका निकाह अमान उल्ला खान (जीनत के पिता) से करवाया। अपने नए पति से तलाक मिलने के बाद मीना कुमारी ने कमाल अमरोही से निकाह किया। जिससे मीना कुमारी को कड़ी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा।
पसंदीदा चीजें
पसंदीदा लेखकगुलजार
पसंदीदा अभिनेता धर्मेंद्र
प्रेम संबन्ध एवं अन्य जानकारियां
वैवाहिक स्थिति विवाहित
बॉयफ्रैंड्स एवं अन्य मामलेगुलजार (पटकथा लेखक)
मीना कुमारी गुलजार के साथ
धर्मेंद्र (अभिनेता)
मीना कुमारी धर्मेंद्र के साथ
कमाल अमरोही (निर्देशक)
पतिकमाल अमरोही (निर्देशक)
मीना अपने पति कमाल अमरोही के साथ
विवाह तिथि14 फरवरी 1952
बच्चेकोई नहीं

मीना कुमारी

विज्ञापन

मीना कुमारी से जुड़ी कुछ रोचक जानकारियाँ

  • क्या मीना कुमारी धूम्रपान करती थीं ?: ज्ञात नहीं
  • क्या मीना कुमारी शराब पीती थीं ?: हाँ
  • मीना कुमारी के पिता मुस्लिम और माता ईसाई धर्म से संबंधित थे।
  • मीना कुमारी की नानी गुरुदेव रवीन्द्रनाथ टैगोर के छोटे भाई की बेटी थीं।
  • अपने परिवार की आर्थिक स्थिति को देखते हुए मीना ने महज चार साल की उम्र में फ़िल्मकार विजय भट्ट के साथ एक बाल कलाकार के रूप में कार्य करना शुरू किया।
  • मीना कुमारी का नाम मज़हबी बानो था, लोग प्यार से उन्हें बेबी मज़हबी कहकर पुकारते थे। जिसके चलते फिल्म फ़रज़न्द-ए-वतन के निर्देशक विजय भट्ट ने उन्हें एक नया नाम बेबी मीना दिया।
  • वर्ष 1946 में आई फिल्म “बच्चों का खेल” से बेबी मीना 14 वर्ष की आयु में मीना कुमारी बनीं।
  • मार्च 1947 में लम्बी बीमारी के कारण मीना कुमारी की माँ का देहांत हो गया था।
  • मीना कुमारी की शुरुआती फ़िल्में पौराणिक कथाओं पर आधारित थीं जैसे कि हनुमान पाताल विजय, वीर घटोत्कच व श्री गणेश महिमा, इत्यादि। मीना कुमारी फिल्म हनुमान पाताल विजय में
  • वर्ष 1952 में आई फिल्म “बैजू बावरा” में मीना कुमारी ने गौरी की भूमिका से काफी ख्याति प्राप्त की। फिल्म बैजू बावरा (1952)
  • 1960 के दशक में मीना कुमारी और प्रदीप कुमार की जोड़ी सुपरहिट मानी जाती थी। मीना ने लगातार प्रदीप के साथ आठ फ़िल्में की जो सुपरहिट साबित हुईं। मीना कुमारी और प्रदीप कुमार की आठ फ़िल्में
  • मीना कुमारी ने बॉलीवुड के विभिन्न अभिनेताओं के साथ कार्य किया जैसे कि दिलीप कुमार, राजेंद्र कुमार, राज कुमार, अशोक कुमार, देव आनंद, धर्मेंद्र, भारत भूषण, इत्यादि। मीना कुमारी विभिन्न कलाकारों के साथ
  • वर्ष 1951 में फिल्म तमाशा के सेट पर मीना कुमारी की मुलाकात जाने-माने फिल्म निर्देशक कमाल अमरोही से हुई। जिसके चलते दोनों एक दूसरे के काफी नजदीक आ गए।
  • 14 फरवरी 1952 को कमाल अमरोही ने मीना कुमारी से विवाह किया, यह जानते हुए भी कि यह कमाल की तीसरी शादी है। क्योंकि मीना कमाल से बहुत प्यार करती थीं।
  • अपने जीवन में बहुत सी कठिनाईयों और दुःखों को देखने के कारण मीना कुमारी को “ट्रेजेडी क्वीन” कहा जाने लगा।
  • उनकी छोटी बहन मधु का विवाह जाने माने हास्य अभिनेता महमूद से हुआ।
  • मीना और अमरोही के संबंधों के बीच कड़वाहट होने के कारण उनकी बॉलीवुड सुपरस्टार धर्मेंद्र के साथ नजदीकियां बढ़ने लगी। उस समय मीना सुपरहिट अभिनेत्री थीं जबकि धर्मेंद्र अपने अभिनय करियर को स्थापित करने में संघर्षरत थे। मीना कुमारी ने धर्मेंद्र के करियर को आगे बढ़ाने के लिए बहुत कुछ किया। अंत में धर्मेंद्र ने एक समारोह के दौरान मीना कुमारी को थप्पड़ मार दिया जिससे मीना का दिल टूट गया और वह शराब का सेवन करने लगीं।
  • वर्ष 1972 में, कमाल अमरोही की फिल्म “पाक़ीज़ा” में मीना कुमारी ने प्रमुख भूमिका निभाई। दिलचस्प बात यह है कि इस फिल्म को बनने में पूरे 17 वर्ष लगे थे।

  • फिल्म पाकीजा के रिलीज होने के तीन हफ्ते बाद ही मीना कुमारी गंभीर रूप से लिवर सिरोसिस बीमारी से ग्रस्त हो गईं और 31 मार्च 1972 को महज 39 साल की उम्र में उनका निधन हो गया।
विज्ञापन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *