Menu

Kuldeep Singh Sengar (BJP MLA) Biography in Hindi | कुलदीप सिंह सेंगर (बीजेपी विधायक) जीवन परिचय

कुलदीप सिंह सेंगर

विज्ञापन

जीवन परिचय
पूरा नाम कुलदीप सिंह सेंगर
व्यवसाय भारतीय राजनेता
पार्टी/दल भारतीय जनता पार्टी
भारतीय जनता पार्टी झंडा
राजनीतिक यात्रा • वर्ष 2002 में, वह उन्नाव सदर क्षेत्र से बहुजन समाज पार्टी (बसपा) से विधायक चुने गए।
• वर्ष 2007 में, वह समाजवादी पार्टी (एसपी) में शामिल हुए और बांगरमऊ से विधायक चुने गए।
• वर्ष 2012 में, वह पुनः समाजवादी पार्टी के टिकट पर बांगरमऊ से एक विधायक चुने गए।
• वर्ष 2017 में, वह भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हुए और बांगरमऊ से विधायक चुने गए।
प्रसिद्धि उन्नाव बलात्कार से
शारीरिक संरचना
लम्बाई से० मी०- 165
मी०- 1.65
फीट इन्च- 5’ 5”
वजन/भार (लगभग)60 कि० ग्रा०
आँखों का रंग काला
बालों का रंग अर्ध-श्वेत
व्यक्तिगत जीवन
जन्मतिथि वर्ष 1966
आयु (2018 के अनुसार)58 वर्ष
जन्मस्थान उन्नाव, उत्तर प्रदेश
राष्ट्रीयता भारतीय
गृहनगर उन्नाव, उत्तर प्रदेश
स्कूल/विद्यालय राजा शंकर सहाय इंटर कॉलेज, उन्नाव, उत्तर प्रदेश
महाविद्यालय/विश्वविद्यालयलागू नहीं
शैक्षिक योग्यता वर्ष 1992 में, राजा शंकर सहाय इंटर कॉलेज, उन्नाव, यूपी बोर्ड इलाहाबाद से दसवीं
धर्म हिन्दू
जाति/जातीयताक्षत्रिय (राजपूत)
खाद्य आदतमांसाहारी
पता गांव सराय ठोक माखी, पोस्ट माखी, जिला उन्नाव
विवाद • भारतीय दण्ड सहिंता की धारा - 188 के अंतर्गत केस दर्ज।
• भारतीय दण्ड सहिंता की धारा - 353 के अंतर्गत केस दर्ज।
• अप्रैल 2018 में, उन्नाव जिले की एक महिला ने कुलदीप सिंह सेंगर व साथियों पर सामूहिक बलात्कार करने का आरोप लगाया।
• 11 अप्रैल, 2018 को, उन पर भारतीय दंड संहिता की धारा 363 (अपहरण की सजा), 366 (अपहरण और एक लड़की को प्रेरित), 376 (बलात्कार की सजा) और 506 (आपराधिक धमकी) के तहत मामला दर्ज किया गया।
प्रेम संबन्ध एवं अन्य जानकारियां
वैवाहिक स्थिति विवाहित
गर्लफ्रेंड एवं अन्य मामले कोई नहीं
परिवार
पत्नी संगीता सेंगर (राजनीतिज्ञ)
कुलदीप सिंह सेंगर अपनी पत्नी के साथ
बच्चे बेटा : कोई नहीं
बेटी : 2
माता-पिता पिता - कमल सिंह उर्म मुलायम सिंह
माता - नाम ज्ञात नहीं
भाई-बहन भाई : अतुल सिंह सेंगर
कुलदीप सिंह सेंगर का भाई अतुल सिंह सेंगर
मनोज सिंह सेंगर
बहन : ज्ञात नहीं
पसंदीदा चीजें
पसंदीदा राजनेतानरेंद्र मोदी, अटल बिहारी वाजपेयी
धन संबंधित विवरण
कार संग्रह टोयोटा फॉर्च्यूनर (यूपी -35-जेड -8 9 5)
गहने ₹ 12,000,00 के स्वर्ण आभूषण
आय (उत्तर प्रदेश विधायक के रूप में)₹1,87,000 + अन्य भत्ते (वर्ष 2018 के अनुसार)
कुल संपत्ति (लगभग)₹3 करोड़ (2014 के अनुसार)

कुलदीप सिंह सेंगर 1

विज्ञापन

कुलदीप सिंह सेंगर से जुड़ी कुछ रोचक जानकारियाँ

  • क्या कुलदीप सिंह सेंगर धूम्रपान करते हैं ?: ज्ञात नहीं
  • क्या कुलदीप सिंह सेंगर शराब पीते हैं ?: ज्ञात नहीं
  • कुलदीप सिंह सेंगर उत्तर प्रदेश में सबसे शक्तिशाली ठाकुर नेताओं में से एक माने जाते हैं।
  • सूत्रों के अनुसार, वह रघुराज प्रताप उर्फ राजा भैया के घनिष्ठ मित्र हैं।
  • वर्ष 2002 में, उन्होंने बहुजन समाज पार्टी और वर्ष 2008 में समाजवादी पार्टी के साथ कई अन्य राजनीतिक दलों को बदला, और आखिर में वर्ष 2017 में भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए। कुलदीप सिंह सेंगर समाजवादी पार्टी में
  • वह एक आभूषण व्यवसाय भी चलाते हैं।
  • उनकी पत्नी संगीता भी एक राजनीतिज्ञ हैं, जो जिला उन्नाव की पंचायत अध्यक्ष के रूप कार्यरत हैं। कुलदीप सिंह सेंगर पत्नी
  • अप्रैल 2018 में, उन्नाव जिले की एक 18 वर्षीय महिला ने कुलदीप सेंगर और उनके साथियों पर सामूहिक बलात्कार करने का आरोप लगाया। मामला सुर्खियों में तब आया जब महिला ने अपने परिवार के साथ 8 अप्रैल 2018 को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निवास के बाहर विरोध किया और आत्महत्या करने की धमकी दी, उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस ने उनकी शिकायत पर विधायक के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की है। उन्नाव बलात्कार पीड़ित
  • पीड़िता के अनुसार, कुलदीप सेंगर ने उनका 17 जून 2017 को बलात्कार किया था, जिसके चलते उन्होंने पुलिस में विधायक के खिलाफ मामला दर्ज करवाने का भरसक प्रयास किया, परन्तु तमाम कोशिशों के बावजूद पुलिस ने विधायक के खिलाफ मामला दर्ज नहीं किया। उसके बाद पीड़िता ने स्थानीय टेलीविजन चैनलों के माध्यम से बताया कि “जब मैंने बलात्कार के खिलाफ विरोध किया, तो मुझे धमकी दी जाने लगी कि वह मेरे परिवार के सदस्यों को मार डालेगा।”
  • विरोध के बाद, यूपी पुलिस ने पीड़ित के पिता पप्पू सिंह को गिरफ्तार कर लिया, जिनकी पुलिस हिरासत में मौत हो गई थी। पीड़िता ने आरोप लगाया कि विधायक ने ही पुलिस हिरासत में उनके पिता की हत्या करवाई है, क्योंकि विधायक ने मुझ पर सामूहिक बलात्कार की शिकायत को वापस लेने का दबाव डाला था, जबकि मैंने शिकायत वापस लेने से इनकार कर दिया था।

  • 10 अप्रैल 2018 को, राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) ने पीडि़त के पिता की मृत्यु के मामले में उत्तर प्रदेश सरकार और पुलिस के खिलाफ नोटिस जारी किया।
  • सूत्रों के अनुसार, पीड़िता के पिता की मृत्यु विधायक के भाई और अन्य लोगों द्वारा पीटकर की गई, जिसके बाद बांगरमऊ विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के भाई अतुल सिंह सेंगर को उनके गृहनगर उन्नाव से लखनऊ अपराध शाखा की टीम द्वारा गिरफ़्तार किया गया।
विज्ञापन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *