Menu

Yogi Adityanath Biography in Hindi | योगी आदित्यनाथ जीवन परिचय

योगी आदित्यनाथ

विज्ञापन

जीवन परिचय
वास्तविक नाम अजय सिंह बिष्ट
उपनाम योगी
व्यवसाय भारतीय राजनेता , धार्मिक मिशनरी
पार्टी/दल भारतीय जनता पार्टी
भारतीय जनता पार्टी झंडा
राजनीतिक यात्रा 1996:• वह महंत अवध्यानाथ के चुनाव अभियान के प्रबंधन प्रभारी बने।
1998: • 26 वर्ष की आयु में वह 12वीं लोकसभा के सबसे युवा सांसद (गोरखपुर) बने।
1998: • 1998 से 1999 तक सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत खाद्य आपुर्ति व नागरिक आपुर्ति की उप समिति बी में कार्यरत रहे। इसके साथ उन्होंने शर्करा और खाद्य तेल विभाग में भी कार्य किया। वह गृह मंत्रालय की सलाहकार समिति के भी सदस्य रहे।
1999: • वह 13वीं लोकसभा (दुसरे कार्यकाल) गोरखपुर क्षेत्र से पुनः चुने गए।
2004: • 14वीं लोकसभा (तीसरे कार्यकाल) गोरखपुर क्षेत्र से दोबारा चुने गए। जहाँ उन्होंने सरकारी आश्वासन समिति के सदस्य के रूप में कार्य किया। इसके साथ-साथ विदेश मामलो की समिति में भी सदस्य के रूप में कार्य किया।
2009: • 15वीं लोकसभा (चौथे कार्यकाल) गोरखपुर क्षेत्र से पुनः चुने गए। जहाँ उन्होंने परिवहन, पर्यटन और संस्कृति संबंधी समितियों में कार्य किया।
2014: • गोरखपुर निर्वाचन क्षेत्र से 16वीं लोकसभा (पाँचवे कार्यकाल) में फिर से निर्वाचित हुऐ।
2017: • 19 मार्च 2017 को उत्तर प्रदेश के 21 वें मुख्यमंत्री बने।
शारीरिक संरचना
लम्बाई से० मी०- 163
मी०- 1.63
फीट इन्च- 5’ 4”
वजन/भार (लगभग)72 कि० ग्रा०
आँखों का रंग काला
बालों का रंग काला
व्यक्तिगत जीवन
जन्मतिथि 05 जून 1972
आयु (2016 के अनुसार)45 वर्ष
जन्मस्थान पंचुर, जिला पौड़ी गढ़वाल, उत्तराखण्ड, भारत
राशि मिथुन राशि
राष्ट्रीयता भारतीय
गृहनगर गोरखपुर, उत्तर प्रदेश, भारत
स्कूल/विद्यालय प्राथमिक शिक्षा पौड़ी, उत्तराखण्ड
कॉलेज/महाविद्यालय/विश्वविद्यालयगढ़वाल विश्वविद्यालय, श्रीनगर, उत्तराखण्ड
शैक्षिक योग्यता गणित में स्नातक (बी० एस० सी०)
राजनीतिक आरम्भ 1998 में, जब वे पहली बार सांसद बने।
परिवार पिता - आनंद सिंह बिष्ट (वन क्षेत्रपाल )
माता- सावित्री देवी (गृहणी)
योगी आदित्यनाथ के माता पिता
भाई- महेंद्र सिंह बिष्ट (भारतीय सेना), 2 अन्य (दोनों कॉलेज में कार्य करते हैं)
योगी आदित्यनाथ के भाई महेंद्र सिंह बिष्ट
बहन - शशि (ज्येष्ठ) व दो अन्य
योगी आदित्यनाथ की बहन शशि
आध्यात्मिक गुरुमहंत अवध्यानाथ महाराज
महंत अवध्यानाथ महाराज
जाति ठाकुर
पता 361 पुराना गोरखपुर, तहसील सदर बाजार, जिला गोरखपुर
शौक/अभिरुचितैराकी, बैडमिंटन खेलना, पशुओं के साथ खेलना
विवाद • योगी अन्य धार्मिक लोगो के धर्मांतरण कराने के लिए विवादों में रहे है। 2005 में, आदित्यनाथ ने कथित रूप से एक शुद्धि अभियान का नेतृत्व किया जिसमें ईसाइयों को हिंदू धर्म के रूपांतरण में शामिल किया गया था। एक ऐसे उदाहरण में, उत्तर प्रदेश के ऐटा शहर में 1800 ईसाई कथित रूप से हिंदू धर्म में परिवर्तित हो गए थे।
• जनवरी 2007 में गोरखपुर में मुहर्रम के दौरान एक हिंदू समूह और मुसलमानो के बीच में विवाद होने से (राज कुमार अग्रराही) नामक व्यक्ति के घायल होने पर आसपताल में भर्ती कराया। जिसके बाद उन्हें उन उत्तेजक भाषणों के लिए गिरफ्तार किया गया जिनकी वजह से गोरखपुर में दंगे भड़के।
• 2015 में योगी विवादों में आ गए जब उन्होंने यह टिप्पणी की " जो व्यक्ति योग के कारण सूर्य नमस्कार का विरोध करते हैं वह भारत छोड़ सकते हैं। उन्होंने कहा जो लोग सूर्य नमस्कार के रूप में सूर्य भगवन में साम्प्रदायिकता देखते हैं। उनके लिए मेरा अनुरोध है कि वह अपने जीवन को त्याग दें।"
• मीडिया में असहिषुणता के संबंध में योगी आदित्यनाथ ने शाहरुख खान पर विवादास्पद टिप्पणी से विवादों में रहें। जिसमें उन्होंने शाहरुख की तुलना पाकिस्तानी आतंकवादी हाफिज सईद से की थी। उन्होंने कहा "शाहरुख खान को यह याद रखना चाहिए कि भारत की बहुसख्यंक आबादी ने ही उन्हें स्टार बनाया है और यदि वे सब लोग उनकी फ़िल्मों का बहिष्कार करेंगे तो उन्हें सड़को पर घूमना पड़ेगा और यह दुर्भाग्यपूर्ण बात है कि शाहरुख हाफिज सईद की वाणी बोल रहे है।"
पसंदीदा चीजें
पसंदीदा राजनेता नरेंद्र मोदी
पसंदीदा खाना गाहद (जो की पर्वतीय क्षेत्र में पायी जाती हैं )
प्रेम संबन्ध एवं अन्य
वैवाहिक स्थिति अविवाहीत
पत्नी नहीं हैं
बच्चे नहीं हैं
धन संबंधित विवरण
संपत्ति (लगभग)72 लाख लगभग

योगी आदित्यनाथ

विज्ञापन

योगी आदित्यनाथ से जुड़ी कुछ रोचक जानकारियाँ

  • क्या योगी आदित्यनाथ धूम्रपान करते हैं?  ज्ञात नहीं
  • क्या योगी आदित्यनाथ शराब पीते हैं?  ज्ञात नहीं
  • योगी ने 21 वर्ष की आयु में अपना घर छोड़ा और 90 के दशक में सक्रिय रूप से राम मंदिर आंदोलन से जुड़े।
    योगी आदित्यनाथ युवा अवस्था में
  •  उन्होंने ऋषिकेश में गोरखनाथ मंदिर में महंत अवध्यानाथ से मुलाकात की। उसके पश्चात्‌ वह उनके शिष्य बन गए और 1994 में 22 वर्ष की आयु में उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में बस गए। उन्होंने फिर अजय से अपना नाम योगी आदित्यनाथ रख लिया।
  • 1996 में योगी की राजनीतिक यात्रा आरम्भ हुई जब उन्हें महंत अवध्यानाथ के चुनाव अभियान के प्रबंधन का प्रभारी नियुक्त किया गया।
  • गोरखपुर निर्वाचन क्षेत्र से 1998 में उन्हें 12वी लोकसभा के सदस्य के रूप में चुना गया। वह लोकसभा के सबसे युवा सदस्य बने। अब तक वह एक ही निर्वाचन क्षेत्र (गोरखपुर) से पाँच बार सासंद रहे है।
  • 2014 लोकसभा चुनाव में योगी ने 1,42,309 मतो के अंतर से चुनाव जीता। जिससे योगी आदित्यनाथ अपने निर्वाचन क्षेत्र के एक लोकप्रिय राजनेता बन गए।
  • योगी के पूर्वर्ती और अध्यात्मिक नेता महंत अवध्यानाथ, हिन्दू महासंघ के अध्यक्ष थे। दोनों ने अपने चुनाव के दौरान हिंदुत्व का एजेंडा रखा।  योगी आदित्यनाथ गोरखपुर धाम में (गोरखनाथ मंदिर ) में आरती करते हुए।
  • योगी हिन्दू युवा वाहिनी के संस्थापक हैं। यह युवाओ की एक सामाजिक, सांस्कृतिक, और राष्ट्रवादी संस्था है और यह पूर्वी उत्तर प्रदेश के हिन्दुओ में बहुत लोकप्रिय है। हिंदू युवा वाहिनी
  •  मार्च 2010 में आदित्यनाथ कई भाजपा सांसदों में से एक थे, जिन्होंने महिला आरक्षण विधेयक पर पार्टी की कड़ी अनुपालना की थी।
  •  पार्टी में बहुत लोकप्रिय होने के पश्चात् भी उनका भाजपा से अच्छे संबंध नहीं थे। एक दशक तक उनका पार्टी के साथ तनावपूर्ण संबंध रहा। 2007 में उत्तर प्रदेश के चुनाव में भाजपा और योगी के बिच में संबंध अच्छे नहीं थे।
  • योगी एक पशु प्रेमी हैं। योगी आदित्यनाथ का पशुओ से प्रेम
  • 19 मार्च 2017 को वह उत्तर प्रदेश के 21वें मुख्यमंत्री बने। योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश के 21वें मुख्यमंत्री के रूप में
विज्ञापन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *