Menu

Nirmal Baba Biography in Hindi | निर्मल बाबा जीवन परिचय

निर्मल बाबा

विज्ञापन

जीवन परिचय
वास्तविक नाम निर्मलजीत सिंह नरुला
उपनाम निर्मल बाबा
व्यवसाय भारतीय आध्यात्मिक गुरु
शारीरिक संरचना
लम्बाई (लगभग)से० मी०- 170
मी०- 1.70
फीट इन्च- 5’ 7”
वजन/भार (लगभग)80 कि० ग्रा०
आँखों का रंग काला
बालों का रंग श्वेत
व्यक्तिगत जीवन
जन्मतिथि 16 अप्रैल 1952
आयु (वर्ष 2018 के अनुसार) 66 वर्ष
जन्मस्थान गांव मंडी, समाना, पंजाब
राशि मेष
राष्ट्रीयता भारतीय
गृहनगर समाना, पंजाब
स्कूल/विद्यालय समाना, लुधियाना और दिल्ली के स्थानीय स्कूल में पढ़ाई की
महाविद्यालय/विश्वविद्यालयराजकीय महाविद्यालय, लुधियाना, पंजाब
शैक्षिक योग्यता स्नातक
डेब्यू टीवी : वर्ष 2006 में पहला समागम
धर्म हिन्दू
परिवार पिता - एस. एस. नरुला
माता - नाम ज्ञात नहीं
भाई - मंजीत सिंह नरूला
बहन - श्रीमती मलविंदर कौर (वर्ष 1964 में, झारखंड विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष इंदर सिंह नामधारी से विवाह किया)
पता 211 निर्मल दरबार, चिरंजिव टॉवर 43, नेहरू प्लेस, नई दिल्ली -110019, भारत
विवाद • उन्हें 'समागम' में भाग लेने वाले व्यक्तियों से धन इकट्ठा (2000 प्रत्येक) करने के बाद और लोगों से 10 प्रतिशत वेतन की मांग करने के लिए कड़ी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा।
• इंदिरा पुरम में जय राम सिंह ने उनके खिलाफ मामला दायर करते हुए आरोप लगाया कि निर्मल बाबा ने ₹31,000 लेकर बीमारी से निजात देने का वादा किया था परन्तु उनके इलाज से बीमारी में कोई फर्क नहीं पड़ा।
• जितेन्द्र सिंह नामक एक व्यक्ति ने उनके खिलाफ एक पुलिस शिकायत दर्ज करवाते हुए कहा कि निर्मल बाबा ने उनसे बीमारी का इलाज करने के लिए ₹11,000 धोखे से लिए थे।
• वर्ष 20012 में, गोमती नगर में लखनऊ पुलिस को तान्या ठाकुर और आदित्य ठाकुर ने निर्मल बाबा के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज करवाया। जिसमें उन्होंने कहा कि निर्मल बाबा धर्म के नाम पर बेवकूफ बनाते हुए अंधविश्वास को बढ़ावा देते हैं। इसी तरह के ओर भी आरोप उन पर लगाए गए।
प्रेम संबन्ध एवं अन्य जानकारियां
वैवाहिक स्थिति विवाहित
पत्नी सुषमा नरूला
विवाह तिथि वर्ष 1976
बच्चे बेटा - 1
बेटी - 1
धन संबंधित विवरण
संपत्ति (लगभग)₹235 करोड़

निर्मल बाबा

निर्मल बाबा से जुड़ी कुछ रोचक जानकारियाँ

  • वर्ष 1970 में, निर्मल बाबा के पिता की हत्या के बाद उनकी माता ने उन्हें सुरक्षा हेतु झारखंड के डाल्टनगंज भेज दिया था।
  • विभाजन के बाद उनका परिवार पाकिस्तान को छोड़कर भारत (झारखंड में पालमू नामक एक गांव) चला गया था।
  • उनके दादा लाला ठाकुर दास ने शपथ ली थी कि वह अपने बच्चों का सिख धर्म में परिवर्तन करेंगे। इसके चलते उनके पिता एस. एस. नरूला का धर्म सिख है।
  • दुनिया के विभिन्न हिस्सों के लोगों के अनुसार वह अपनी अद्भुत शक्तियों से न केवल टाइफाइड, पीलिया, इत्यादि बीमारियों का इलाज करते हैं बल्कि व्यक्ति को स्कैन कर लेते हैं। इसके अलावा वह किसी भी व्यक्ति की संपत्ति के बारे में अनुमान लगा सकते हैं मात्र फोन पर बात करने से।
  • वर्ष 2006 में वह पहली बार टीवी पर आए तब उनका समागम 40 से अधिक विभिन्न भारतीय और अंतर्राष्ट्रीय चैनलों जैसे कि सब टीवी, टीवी एशिया, स्टार न्यूज़ और एएक्सएन, इत्यादि पर प्रसारित किया जाता था।
  • निर्मल बाबा का दिल्ली के कुछ रिहायशी इलाकों में फ्लैट है। इसके अलावा उनका दिल्ली में एक होटल और बुटीक है जिसमें बुटीक की कीमत ₹35 करोड़ है। निर्मल बाबा होटल
  • निर्मल बाबा अपने “समागम” में भाग लेने वाले हर एक व्यक्ति से ₹2000 फीस लेते हैं।

विज्ञापन
  • वह झारखण्ड विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष इंदर सिंह नामधारी के साले हैं।
  • अपनी किशोरावस्था के दौरान उन्होंने ईंटों एवं कपड़े का व्यवसाय करने की कोशिश की। इसके बाद उन्होंने रांची में कोयला और चुने के पत्थर का व्यवसाय शुरू किया। जिसमें उन्हें सफलता प्राप्त हुई।
  • लुधियाना जाते समय एक सड़क दुर्घटना में उनके पैर की हड्डी टूट गई थी। जिसके चलते उन्हें सीएमसी लुधियाना अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां वह डेढ़ साल तक बिस्तर पर रहे थे। जिसके कारण उनका कपड़े का व्यवासय ठप हो गया।
  • एक धार्मिक गुरु होने के कारण उनकी कुल संपत्ति ₹235 करोड़ के करीब होने के कारण कड़ी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा। परन्तु एक साक्षात्कार के दौरान उन्होंने कहा कि वह नियमित रूप से आयकर का भुगतान करते रहते हैं।
  • अप्रैल 2012 में, निर्मल बाबा के अनुयायियों के द्वारा उनकी वेबसाइट “Nirmalbaba.com” को 42000 बार देखा गया।

विज्ञापन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *