Menu

Vineet Kumar singh Biography in Hindi | विनीत कुमार सिंह जीवन परिचय

विनीत कुमार सिंह

विज्ञापन

जीवन परिचय
वास्तविक नाम विनीत कुमार सिंह
व्यवसाय अभिनेता, सहायक निर्देशक
शारीरिक संरचना
लम्बाई (लगभग)से० मी०- 183
मी०- 1.83
फीट इन्च- 6’
वजन/भार (लगभग)75 कि० ग्रा०
शारीरिक संरचना (लगभग)-छाती: 40 इंच
-कमर: 31 इंच
-Biceps: 13 इंच
आँखों का रंग गहरा भूरा
बालों का रंग काला
व्यक्तिगत जीवन
जन्मतिथि 24 अगस्त 1981
आयु (2017 के अनुसार)36 वर्ष
जन्मस्थान वाराणसी, उत्तर प्रदेश, भारत
राशि कन्या
राष्ट्रीयता भारतीय
गृहनगर वाराणसी, उत्तर प्रदेश, भारत
स्कूल/विद्यालय ज्ञात नहीं
महाविद्यालय/विश्वविद्यालयज्ञात नहीं
शैक्षिक योग्यता स्नातक (चिकित्सा विज्ञान)
आयुर्विज्ञान वाचस्पति (आयुर्वेद, आयुर्विज्ञान चिकित्सक), नागपुर से
डेब्यू हिंदी फिल्म (अभिनेता)- चेन कुली की मेन कुली (2007)
चेन कुली की मेन कुली
हिंदी फिल्म (सहायक निर्देशक)-विरुद्ध (2005)
विरुद्ध
प्रसिद्ध भूमिकादानिश खान - गैंग्स ऑफ वासेपुर (भाग 1 और 2)
 विनीत कुमार सिंह फिल्म गैंग्स ऑफ वासेपुर में दानिश खान के रूप में
परिवार पिता - नाम ज्ञात नहीं (गणितज्ञ)
माता- नाम ज्ञात नहीं
भाई- कोई नहीं
बहन- मुक्ति सिंह श्रीनेत ( JRF at BHU)
विनीत कुमार अपनी बहन के साथ
धर्म हिन्दू
शौक/अभिरुचिबास्केटबॉल खेलना, संगीत सुनना, फिल्में देखना
पसंदीदा चीजें
पसंदीदा अभिनेता अमिताभ बच्चन
पसंदीदा निर्देशकअनुराग कश्यप
पसंदीदा फिल्में सिटी ऑफ गोल्ड, इनग्लोरियस बास्टर्ड्स
पसंदीदा खेलबास्केटबॉल, मुक्केबाजी
पसंदीदा संगीतकारअर्ल एडगर
प्रेम संबन्ध एवं अन्य जानकारियां
वैवाहिक स्थिति अविवाहित
गर्लफ्रेंड व अन्य मामले ज्ञात नहीं
पत्नी कोई नहीं
बच्चेकोई नहीं
धन/संपत्ति संबंधित विवरण
वेतन (लगभग)50 लाख रुपए/ फ़िल्म

विनीत कुमार सिंह

विज्ञापन

 

विनीत कुमार सिंह से जुड़ी कुछ रोचक जानकारियाँ

  • क्या विनीत कुमार सिंह धूम्रपान करते हैं ? हाँ
  • क्या विनीत कुमार सिंह शराब पीते हैं ? हाँ
  • वह वाराणसी में एक क्षत्रिय परिवार में पैदा हुए थे।
  • उनके पिता एक प्रसिद्ध गणितज्ञ हैं।
  • उनकी बचपन से खेलों के प्रति दिलचस्पी थी, और वह राष्ट्रीय स्तर पर बास्केटबॉल भी खेल चुके हैं।
  • बाद में, उन्होंने अभिनय में रुचि पैदा की और नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में शामिल होना चाहते थे। हालांकि, सामाजिक मानदंडों और अभिभावकों के दबाव के कारण, वह उस स्कूल में नहीं जा सके।
  • वह एक प्रतिभाशाली छात्र थे, और सीपीएमटी करने के बाद, उन्होंने चिकित्सक महाविद्यालय में दाखिला लिया।
  • वह आयुर्वेद में स्नातकोत्तर करने के लिए नागपुर चले गए।
  • विनीत आयुर्वेद में एक एमडी (डॉक्टर ऑफ मेडीसिन) के साथ एक लाइसेंस प्राप्त चिकित्सक हैं।
  • वह अपने अभिनय की महत्वाकांक्षा को पूरा करने के लिए मुंबई चले गए। मुंबई में शुरुआती दिन संघर्ष से भरे हुए थे; जैसे किसी अन्य नवोदित कलाकार के लिए होते है।
  • अपने संघर्ष के एक ऐसे उदाहरण को साझा करते हुए, विनीत का कहना है कि मुंबई में जल्द ही उनके सारे रुपए खत्म हो गए थे और वह कई दिनों तक खाली पेट सोते थे। एक दिन, उन्होंने अपनी छोटी बहन मुक्ति को बुलाया और अपनी निंदनीय कहानी के बारे में बताया; जब बारिश होती थी तो वह अपने कमरे में नंगे पांव चला करते थे।
  • वर्ष 2006 में, वह अपने ग्रह नगर वाराणसी वापस आ गए। हालांकि अभिनय की उनकी इछाओ ने उन्हें लंबे समय तक घर पर टिकने नहीं दिया, और वह फिर से काम करने के लिए मुंबई चले गए।
  • शुरू में, उन्होंने मराठी, तमिल और बांग्ला फिल्मों में काम किया, और फिर बाद में उन्होंने हिंदी फिल्मों में काम किया, जैसे कि- विरुद्ध, पद्मश्री लालू प्रसाद यादव, देह, जन्नत, क्रूक, आदि।
  • वह ‘सुपरस्टार- टैलेंट हंट’ के विजेता बने, जहां उनकी मुलाकात बॉलिवुड अभिनेता/फिल्म निर्माता महेश मांजरेकर से हुई।
  • महेश मांजरेकर ने फिल्म उद्योग में उन्हे पहला अवसर अपने सहायक फिल्म निर्देशक के रूप में दिया। विनीत ने कुछ मराठी फिल्मों में महेश मांजरेकर के साथ सहायक निर्देशक के रूप में काम किया। उन्होंने हिंदी फिल्मों में भी महेश मांजरेकर के साथ कार्य किया उनमे से एक फिल्म ‘विरुद्ध’ (2005) है। जिसमें अमिताभ बच्चन और जॉन अब्राहम ने अभिनय किया था।
  • उन्होंने महेश भट्ट की फिल्म ‘भूखा’ में पुलिस इंस्पेक्टर की प्रमुख भूमिका निभाई थी।
  • वर्ष 2007 के बाद, उन्होंने सहायक निर्देशक के रूप में कार्य करना बंद कर दिया और अपने अभिनय करियर पर ध्यान केंद्रित किया।
  • अपनी कई हिट और विफल फिल्मों “गोरी तेरे प्यार में” और “इशक’ के बाद, उन्हें एक मराठी-हिंदी द्विभाषी फिल्म “सिटी ऑफ गोल्ड” (2010) में अभिनय का मौका मिला। जिसमें उनकी अभिनय क्षमता देखने के बाद उन्हें फिल्म निर्माता अनुराग कश्यप से मिलने का मौका मिला, जिन्होंने उन्हे फिल्म गैंग्स ऑफ वासेपुर में दानिश खान की एक अहम भूमिका दी। इस फिल्म में उन्होंने मनोज बाजपेयी, पियूष मिश्रा, ऋचा चड्ढा, और नवाजुद्दीन सिद्दीकी जैसे विख्यात अभिनेताओं के साथ अभिनय किया।    विनीत कुमार सिंह फिल्म गैंग्स ऑफ वासेपुर में
  • फिल्म ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर” में दानिश खान की भूमिका निभाने के बाद उन्हें “बॉम्बे टॉकीज़” (2013) और “अग्ली” (2014) जैसी फिल्मों में अभिनय करने का मौका मिला, जहां उन्हें पहली बार स्क्रीन नामांकन दिया गया।
  • वह कई टीवी विज्ञापनों में भी दिखाई देते है, जैसे कि-7 उप निम्बुज़ और बिड़ला सन लाइफ।
  • उन्होंने अभिनेता संजय दत्त के साथ फिल्म “हथियार” (2002) में एक छोटी भूमिका निभाई है।
  • गैंग्स ऑफ़ वासेपुर के बाद, उन्हें फिल्मों में कोई बड़ी भूमिका नहीं मिली। इसलिए, उन्होंने ‘मुक्केबाज़’ की पटकथा लिखी और वर्ष 2016 में पटकथा को अनुराग कश्यप को दिखाया।
  • 14 दिनों के बाद, अनुराग कश्यप ने उन्हे फ़ोन किया, और उन्हें आश्वासन दिया कि वह उनकी पटकथा पर फिल्म बनाए गए, लेकिन उन्होंने इसके लिए दो शर्तों राखी- पहली कि वह एक असली बॉक्सर के रूप में परीक्षण ले गए, और दूसरी कि वह पटकथा में कुछ बदलाव करेंगे।
  • विनीत ने मुक्केबाजी में प्रशिक्षण लेने के लिए अपने घर का फर्नीचर, टीवी सेट और अन्य घरेलू सामान को बेच दिया, उन्होंने पटियाला के प्रशिक्षण केंद्र से 1 वर्ष तक मुक्केबाजी में प्रशिक्षण लिया, जहां पर अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजों को भी मुक्केबाजी में प्रशिक्षण दिया जाता था। प्रशिक्षण के दौरान, उनके चेहरे पर 25 बार चोट लगी, उनकी आँखों पर घाव हो गया, और यहां तक कि उनकी पसलियाँ भी टूट गई थी।

विज्ञापन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *