Menu

Vijender Singh Biography in Hindi | विजेन्द्र सिंह जीवन परिचय

विजेन्द्र सिंह

विज्ञापन

जीवन परिचय
पूरा नाम विजेन्द्र सिंह बैनीवाल
उपनाम विजेन्द्र
व्यवसाय भारतीय पेशेवर मुक्केबाज़
शारीरिक संरचना
लम्बाई (लगभग)से० मी०- 182
मी०- 1.82
फीट इन्च- 6’
वजन/भार (लगभग)75 कि० ग्रा०
शारीरिक संरचना (लगभग)-छाती: 40 इंच
-कमर: 32 इंच
-Biceps: 15 इंच
आँखों का रंग काला
बालों का रंग काला
अंतर्राष्ट्रीय डेब्यूएथेंस ग्रीष्मकालीन ओलंपिक (2004)
पसंदीदा शॉट्सनॉकआउट पंच
मुख्य (पदक)• वर्ष 2006 में, एशियाई खेलों में कांस्य पदक जीता।
• वर्ष 2006 में, उन्होंने राष्ट्रमंडल खेलों में रजत पदक जीता।
• वर्ष 2008 में, उन्होंने बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीता और ओलंपिक पदक जीतने वाले पहले भारतीय मुक्केबाज बन गए।
• वर्ष 2009 में, वार्षिक मिडलवेट श्रेणी की सूची में इंटरनेशनल बॉक्सिंग एसोसिएशन द्वारा उन्हें नंबर 1 पर स्थान दिया गया था।
• वर्ष 2010 में, उन्होंने एशियाई खेलों मे स्वर्ण पदक जीता।
कैरियर टर्निंग प्वाइंटवर्ष 2006 के, राष्ट्रमंडल खेलों में उन्होंने सेमीफाइनल मे इंग्लैंड के नील पर्किन्स को हराया।
व्यक्तिगत जीवन
जन्मतिथि 29 अक्टूबर 1985
आयु (2017 के अनुसार)32 वर्ष
जन्मस्थान कलुवास, भिवानी, हरियाणा, भारत
राशि वृश्चिक
राष्ट्रीयता भारतीय
गृहनगर कलुवास, भिवानी, हरियाणा, भारत
स्कूल/विद्यालय हैप्पी सीनियर सेकेंडरी स्कूल, भिवानी
महाविद्यालय/विश्वविद्यालयवैश्य कॉलेज ऑफ़ एजुकेशन, भिवानी
शैक्षिक योग्यता स्नातक
परिवार पिता - महिपाल सिंह बेनीवाल (बस चालक)
माता- कृष्णा (गृहिणी)
विजेन्द्र सिंह के माता-पिता
बहन- कोई नहीं
भाई- मनोज (मुक्केबाज़)
विजेन्द्र सिंह अपने भाई के साथ
कोच / संरक्षक (Mentor)जगदीश सिंह
धर्महिंदू
शौक संगीत सुनना और कसरत करना
विवाद• वर्ष 2013 में, पंजाब पुलिस ने उन पर आरोप लगाया कि वह कई बार एक एनआरआई से हेरोइन ख़रीदेते है। लेकिन उन्होंने इस आरोप से साफ इंकार कर दिया, और उन्हें नेशनल एंटी डोपिंग एजेंसी (NADIA) से क्लीन चिट दी गई।
• वर्ष 2010 के राष्ट्रमंडल खेलों मे उन्हें मुकाबला खत्म होने के 20 सेकंड बाद आने के लिए 2 अंक (Point) का जुर्माना लगा।
• जब उन्होंने भारत से बहार जाकर व्यवसाय मुक्कीबाजी करने का निर्णय लिया तो मीडिया में उनकी काफी आलोचना हुई।
पसंदीदा चीजें
पसंदीदा भोजनग्रील्ड भेड़ और कढ़ाई चिकन
पसंदीदा अभिनेता अक्षय कुमार
पसंदीदा मुक्केबाज़राज कुमार सांगवान, माइक तीसों, मुहम्मद अली
प्रेम संबन्ध एवं अन्य जानकारियां
वैवाहिक स्थिति विवाहित
गर्लफ्रेंड व अन्य मामले ज्ञात नहीं
विवाह तिथि17 मई 2011
पत्नी अर्चना सिंह
विजेन्द्र सिंह अपनी पत्नी के साथ
बच्चेबेटा- अरबीर सिंह
विजेन्द्र सिंह अपने बेटे के साथ
बेटी- लागू नहीं
धन/संपत्ति संबंधित विवरण
सम्पति (लगभग)3.2 करोड़ रुपए

विजेन्द्र सिंह

विज्ञापन

विजेन्द्र सिंह से जुड़ी कुछ रोचक जानकारियाँ

  • क्या विजेन्द्र सिंह धूम्रपान करते हैं ? नहीं
  • क्या विजेन्द्र सिंह शराब पीते हैं ? नहीं
  • विजेन्द्र ने इक्वाडोर के कार्लोस गोंगुरा को 9-4 से हराकर, ओलंपिक पदक जीतने वाले पहले भारतीय मुक्केबाज बने।
  • वर्ष 2011 में, उन्होंने बॉलीवुड फिल्म के लिए हस्ताक्षर किए थे, लेकिन उनकी शादी के कारण, निर्माता ने उन्हें फिल्म मे लेने से इंकार कर दिया क्योंकि वह महिलाओं में लोकप्रिय नहीं होगा।
  • उन्होंने पूर्व राष्ट्रीय स्तर के मुक्केबाज और कोच जगदीश सिंह, और गुलबकार सिंह संधू से मुक्केबाज़ी में प्रशिक्षण लिया है।
  • उन्होंने सलमान खान के एक टीवी शो “दस का दम” में मल्लिका शेरावत के साथ हिस्सा लिया।  विजेन्द्र सिंह मल्लिका शेरावत के साथ दस का दम में
  • पुणे में एक रैली के दौरान उनकी नौकरी अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा को भीड़ से बचाने के लिए लगाई गई थी।
  • उनके गृहनगर, भिवानी में उन्हें ‘लिटिल क्यूबा’ नाम से जाना जाता है, क्योंकि उन्होंने कई विश्व-स्तरीय मुक्केबाजों को परीक्षण दिया है।
  • वर्ष 2014 में, उन्होंने फिल्म ‘फगली’ के साथ अपने बॉलीवुड करियर की शुरुआत की।  फगली
  • मैरी कॉम के अलावा, वह राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार जीतने वाले एकमात्र भारतीय मुक्केबाज़ हैं।
  • वर्ष 2009 में, इंटरनेशनल बॉक्सिंग एसोसिएशन ने उन्हें मध्यभार (75 किलोग्राम) की श्रेणी में दुनिया में नंबर 1 स्थान दिया था।
  • वह अभिनेता अक्षय कुमार के एक अच्छे दोस्त है।    विजेन्द्र सिंह और अक्षय कुमार
  • वर्ष 2013 में, उन्होंने “बिग बॉस सीजन 7” के घर में पहलवान संग्राम सिंह से मिलने के लिए प्रवेश किया था।
  • वह एक सैनिक बनना चाहते थे।
  • वर्ष 2015 में, उन्होंने ब्रिटेन के प्रसिद्ध क्वींसबेरी प्रचार के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए।
  • वर्ष 2010 में, उन्हें पद्मा श्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया।   विजेन्द्र सिंह पद्मा श्री पुरस्कार प्रप्त करते हुए
विज्ञापन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *