Menu

Pankaj Tripathi Biography in Hindi | पंकज त्रिपाठी जीवन परिचय

पंकज त्रिपाठी

विज्ञापन

जीवन परिचय
वास्तविक नाम पंकज त्रिपाठी
व्यवसाय अभिनेता
शारीरिक संरचना
लम्बाई (लगभग)से० मी०- 178
मी०- 1.78
फीट इन्च- 5’ 10"
वजन/भार (लगभग)70 कि० ग्रा०
आँखों का रंग गहरा भूरा
बालों का रंग काला
करियर
डेब्यू फिल्म (अभिनेता) : रन (2004)
फिल्म रन (2004)
टीवी (अभिनेता) : गुलाल (2010)
टीवी धारावाहिक गुलाल
व्यक्तिगत जीवन
जन्मतिथि 5 सितंबर 1976
आयु (2018 के अनुसार)42 वर्ष
जन्मस्थान गांव बेलसंद, नजदीक गोपालगंज, बिहार
राशि कन्या
राष्ट्रीयता भारतीय
गृहनगर गोपालगंज, बिहार
विद्यालय डी. पी. एच. स्कूल, गोपालगंज, बिहार
महाविद्यालय/ विश्वविद्यालय • पटना कॉलेज
• नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा (एनएसडी), दिल्ली, भारत
शैक्षणिक योग्यता वर्ष 2004 में नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा (एनएसडी) से ड्रामा में स्नातक
धर्म हिन्दू
शौक/अभिरुचिखाना बनाना, पुस्तकें पढ़ना, यात्रा करना, संगीत सुनना
प्रेम संबन्ध एवं अन्य जानकारियां
वैवाहिक स्थिति विवाहित
गर्लफ्रेंड एवं अन्य मामले ज्ञात नहीं
परिवार
पत्नीनाम ज्ञात नहीं
बच्चे बेटा - ज्ञात नहीं
बेटी - 1
पंकज त्रिपाठी अपनी पत्नी और बेटी के साथ
माता-पिता पिता - पंडित बनारस तिवारी (किसान)
माता - हेमवंती
पंकज त्रिपाठी अपने माता पिता के साथ
भाई-बहन भाई - 3 (सभी बड़े)
बहन - 2 (दोनों बड़ी)
पसंदीदा चीजें
पसंदीदा निर्देशक राम गोपाल वर्मा और अनुराग कश्यप
पसंदीदा अभिनेताअमिताभ बच्चन
पसंदीदा अभिनेत्री दीपिका पादुकोण, जेनिफर लॉरेंस
धन संबंधित विवरण
आय (लगभग)ज्ञात नहीं

पंकज त्रिपाठी

विज्ञापन

पंकज त्रिपाठी से जुड़ी कुछ रोचक जानकारियाँ

  • क्या पंकज त्रिपाठी धूम्रपान करते हैं ?: हाँ
  • क्या पंकज त्रिपाठी शराब पीते हैं ?: ज्ञात नहीं
  • उनका जन्म बिहार के गोपालगंज में बेलसंद के एक छोटे से गांव में हुआ था।
  • उनके पिता एक किसान और धार्मिक स्वभाव वाले व्यक्ति हैं।
  • बचपन के दिनों में वह आरएसएस में शामिल हुए और विभिन्न शाखाओं में रहे।
  • वह 10 वीं कक्षा तक फिल्मों से परिचित नहीं थे क्योंकि उनके पास टीवी नहीं था और नजदीकी रंगमंच उनके गांव से 20 किलोमीटर दूर था।
  • बचपन से ही उनका अभिनय के प्रति रुझान रहा है और गांव में होने वाले छठ महोत्सव के कार्यक्रम में वह एक लड़की की भूमिका निभाया करते थे।
  • प्राथमिक शिक्षा प्राप्त करने के बाद, उनके पिता ने उन्हें आगे के अध्ययन के लिए पटना भेज दिया था।
  • पटना में पढ़ते समय वह एबीवीपी में शामिल हुए और छात्र आंदोलनों में भाग लेने लगे।
  • वह पटना कॉलेज में एक सक्रिय छात्र नेता थे और एक वक्ता भी थे।
  • वह एक अच्छे खिलाड़ी भी हैं और वह हाई जंप और 100 मीटर स्प्रिंट में अपने कॉलेज का प्रतिनिधित्व करते थे।
  • उन्होंने होटल मैनेजमेंट में एक कोर्स किया और पटना के होटल मौर्य में दो साल तक एक बावर्ची के रूप में काम किया।
  • लक्ष्मीनारायण लाल द्वारा रचित प्रोसेनियम थिएटर “अंधा कुआं” को देखने के बाद वह बेहद प्रभावित हुए, यह शो देखने के बाद वह बहुत रोए थे।
  • जब वह पटना में थे तब वह कला की ओर काफी आकर्षित हुए, जिसके चलते उन्होंने कई नाटक कार्यक्रमों और सिनेमाघरों का दौरा करना शुरू किया, जिसके कारण वह धीरे-धीरे अभिनय के प्रति मोहित हो गए। वह राह चलते साईकिल वालों, ऑटो वालों और छोटे-मोटे कलाकारों से मित्रता कर लेते थे और उनसे अपने अभिनय के बारे में राय मांगते थे।
  • वर्ष 1995 में, उन्हें पहली बार भीष्म साहनी की कहानी पर आधारित नाटक “लीला नंदलाल” में देखा गया, जिसे विजय कुमार (एनएसडी पास आउट) द्वारा निर्देशित किया गया था। जहाँ नाटक में उन्हें एक स्थानीय चोर की बहुत छोटी भूमिका दी गई थी। जिसे श्रोताओं और मीडिया द्वारा काफी सराहा गया था।
  • वर्ष 1996 के बाद, पंकज त्रिपाठी एक नियमित रंगमंच कलाकार बन गए और 4 साल तक उन्होंने थिएटर किया।
  • वर्ष 2001 में, उन्होंने नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा की परीक्षा दी और उन्हें चुन लिया गया।
  • वर्ष 2001 से 2004 तक, उन्होंने एनएसडी में अध्ययन किया।
  • एनएसडी के बाद वह पटना लौट आए और 4 महीने तक थिएटर किया।
  • 16 अक्टूबर 2004 को, वह अपनी अभिनय आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए अपनी पत्नी के साथ मुंबई चले गए।
  • वर्ष 2004 से 2010 तक, उन्होंने टेलीविज़न में कई छोटी भूमिकाएं और टाटा टी का एक विज्ञापन किया।
  • उनकी पत्नी ने मुंबई के गोरेगांव में पढ़ना शुरू किया।
  • फिल्म में उनकी पहली उपस्थिति अभिषेक बच्चन और विजय राज़ अभिनीत वर्ष 2004 की फिल्म “रन” थी।
  • वर्ष 2010 में, उन्होंने स्टार प्लस पर प्रसारित “गुलाल” नामक टीवी कार्यक्रम में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।
  • गुलाल नाटक की शूटिंग के दौरान, उन्हें कास्टिंग डायरेक्टर मुकेश छाबरा ने अनुराग कश्यप की फिल्म “गैंग्स ऑफ़ वासेपुर” के ऑडिशन के लिए बुलाया। जिसमें मनोज वाजपेयी, नवाजुद्दीन सिद्दीकी, राजकुमार राव, रिचा चड्डा, हुमा कुरैशी, विनीत कुमार सिंह, इत्यादि अभिनेता थे। प्रारंभ में, अनुराग उनके ऑडिशन से खुश नहीं थे। हालांकि, मुकेश छाबरा द्वारा आश्वस्त करने के बाद पंकज त्रिपाठी को “सुल्तान” की भूमिका दी गई।
  • फिल्म गैंग्स ऑफ वासेपुर में “सुल्तान” की भूमिका में उन्हें दर्शकों व आलोचकों की काफी सराहना मिली।

  • फिल्म गैंग्स ऑफ़ वासेपुर की सफलता के बाद उन्हें कई फिल्म निर्माताओं से प्रस्ताव मिलने शुरू हो गए।
  • पंकज त्रिपाठी ने फुकरे, मांझी : द माऊंटेन मैन और मसान जैसी फिल्मों में बेहतरीन अदाकारी से आलोचकों और दर्शकों से काफी सराहना प्राप्त की।

  • यहां पंकज त्रिपाठी का पूरा साक्षात्कार है:

विज्ञापन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *