Menu

Raj Babbar Biography in Hindi | राज बब्बर जीवन परिचय

 

राज बब्बर

विज्ञापन

जीवन परिचय
वास्तविक नाम राज बब्बर
व्यवसाय अभिनेता, राजनीतिज्ञ
पार्टी/दल भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी (वर्तमान में)
भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी चिन्ह
शारीरिक संरचना
लम्बाई (लगभग)से० मी०- 173
मी०- 1.73
फीट इन्च- 5’ 8”
वजन/भार (लगभग)75 कि० ग्रा०
शारीरिक संरचना (लगभग)-छाती: 42 इंच
-कमर: 34 इंच
-Biceps: 13 इंच
आँखों का रंग काला
बालों का रंग काला
व्यक्तिगत जीवन
जन्मतिथि 23 जून 1952
आयु (2017 के अनुसार)65 वर्ष
जन्मस्थान टूंडला, उत्तर प्रदेश, भारत
राशि कर्क
राष्ट्रीयता भारतीय
हस्ताक्षरराज बब्बर हस्ताक्षर
गृहनगर टूंडला, उत्तर प्रदेश, भारत
स्कूल/विद्यालय फैज-ए-आम इंटर कॉलेज, आगरा
महाविद्यालय/विश्वविद्यालयआगरा कॉलेज, उत्तर प्रदेश
नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा, नई दिल्ली
शैक्षिक योग्यता रंगकला में स्नातक (नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा, नई दिल्ली)
डेब्यू बॉलीवुड फिल्म- शारदा (1981)
शारदा
पंजाबी फिल्म- चन परदेसी (1980)
 चन परदेसी
टीवी शो- महाभारत (1988)
महाभारत (1988)
राजनीतिक यात्रा• अप्रैल 1994 को, राज्यसभा के लिए चुने गए।
• वर्ष 1999 में, वह 13 वीं लोकसभा के लिए चुने गए।
• वर्ष 2004 में, वह 14 वीं लोकसभा के लिए दूसरी बार चुने गए।
• 10 नवंबर 2009 को, वह 15 वीं लोकसभा के लिए तीसरी बार चुने गए।
• मार्च 2015 को, वह राज्यसभा के लिए चुने गए।
परिवार पिता - कुशाल कुमार बब्बर
माता- शोभा बब्बर
भाई - किशन बब्बर, विनोद बब्बर
बहन- अंजू बब्बर
धर्म हिन्दू
जाति अन्य पिछड़ा वर्ग
पता 1. 20, महादेव रोड, नई दिल्ली
2. नेपथ्य, 20, गुलमोहर रोड जेवीपी डी स्कीम, मुंबई
3. # 94, एल्लोरा एन्क्लेव, दयाल बाग, थाना न्यू आगरा, उत्तर प्रदेश
शौक/अभिरुचिघूमना, पढ़ना, अभिनेय करना
विवाद • चुनाव प्रचार के दौरान कांग्रेस का बटन दबाने की अपील करते हुए राजबब्बर ने कहा कि उंगली का इस्तेमाल गलत मत करना, जब-जब तुम लोग उंगली का इस्तेमाल करते हो, याद रख लो, मेले ठेले में बड़ी पिटाई होती है। अगर अपनी उंगली का गलत इस्तेमाल हो गया तो कोई गलत आदमी जीत जाएगा, कोई सौदेबाज भी जीत सकता है।
• मोदी सरकार के भूमि अधिग्रहण बिल के खिलाफ राज बब्बर ने दिल्ली के जंतर-मंतर पर धरना प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के दौरान उन्होंने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खि‍लाफ आपत्ति‍जनक टिप्पणी की- राज बब्बर ने कहा, 'नरेंद्र मोदी किसानों की जमीन 4.5 करोड़ में उनका सूट खरीदने वाले लोगों को गिफ्ट करना चाहता है। मैं पूछना चाहता हूं नरेंद्र दामोदर दास मोदी से कि तू क्या जानता है। तू सिर्फ कॉरपोरेटरों से अपने सूट की बोली 4.5 करोड़ में लगवाना जानता है। यहां वे किसान बैठे हैं, जिनके बेटे सीमाओं पर तैनात हैं. मोदी तुझे क्या पता है?'
• एक बार उन्होंने महंगाई के सवाल पर कहा था कि 12 रुपये में इंसान भर पेट खाना खा सकता है, जिसके बाद उनकी तीखी आलोचना हुई थी।
• एक बार उन्होंने कहा कि- हमारे पीएम मोदी का सीना नहीं, पेट है 56 इंच का।
• राज बब्बर ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में विवादित बयान दिए कि- मोदी पाक में मिठाई खाते हैं और पठानकोट में आतंकवादी तांडव करते हैं। पहले तो पाकिस्‍तान ही हमें आंखें दिखाता था, पर जब से मोदी सरकार आई है उसके बाद से नेपाल और बांग्‍लादेश भी हमें डरा रहे हैं।
• अलीगढ़ में मैरिस रोड और इगलास में जनसभाओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि- मोदी जी, आपसे बड़ा कोई डकैत नहीं। आपने गरीब, किसानों और मजलूमों के घरों में डाका डाला है। जिसकी काफी आलोचना हुई थी।
पसंदीदा चीजें
पसंदीदा अभिनेता दिलीप कुमार, दारा सिंह
पसंदीदा अभिनेत्री स्मिता पाटिल
प्रेम संबन्ध एवं अन्य जानकारियां
वैवाहिक स्थिति विवाहित
विवाह तिथि 21 नवंबर 1975 (नादिरा बब्बर के साथ)
गर्लफ्रेंड व अन्य मामले स्मिता पाटिल
पत्नी नादिरा बब्बर
राज बब्बर अपनी पहली पत्नी नादिरा बब्बर के साथ
स्मिता पाटिल (दूसरी पत्नी)
राज बब्बर अपनी दूसरी पत्नी स्मिता पाटिल के साथ
बच्चे पुत्र : आर्य बब्बर (नादिरा बब्बर), और प्रतीक बब्बर (स्मिता पाटिल)
राज बब्बर अपने बेटे आर्य बब्बर (बाईं तरफ) और प्रतीक बब्बर  के साथ
बेटी : जूही बब्बर (नादिरा बब्बर)
राज बब्बर अपने परिवार के साथ
धन/संपत्ति संबंधित विवरण
वेतन (राज्यसभा के सदस्य के तौर पर)₹50,000
संपत्ति (लगभग)₹20 करोड़

राज बब्बर

विज्ञापन

राज बब्बर से जुड़ी कुछ रोचक जानकारियाँ

  • क्या राज बब्बर धूम्रपान करते हैं ? ज्ञात नहीं
  • क्या राज बब्बर शराब पीते हैं ? ज्ञात नहीं
  • राज बब्बर का जन्म उत्तर प्रदेश के टुंडला कस्बे में एक हिंदू परिवार में हुआ था।
  • उन्होंने नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा, नई दिल्ली से अभिनय में शिक्षा की और फिर वह मुंबई आ गए।
  • राज बब्बर ने रीना रॉय के साथ बॉलीवुड फिल्म ‘इन्साफ का तराजू’ में अभिनय किया। इस फिल्म में उन्होंने एक बलात्कारी की भूमिका निभाई।  इन्साफ का तराजू
  • उनकी फिल्में हिट होने के बाद उन्हें ‘लो बजटअमिताभ’ कहा जाने लगा था।
  • उनकी फिल्म ‘अग्निकाल’ गुजरात के राजकोट में हुई सच्ची घटनाओं पर आधारित थी।  अग्निकाल
  • उन्होंने अपने करियर में 200 से ज्यादा फिल्मों में कार्य किया जिसमें पंजाबी और बॉलीवुड फिल्में शामिल हैं।
  • बॉलवुड फिल्म ‘नमक हलाल’ में उनको पहले शशि कपूर का रोल मिला था लेकिन वह इस रोल को किसी कारण वंश नहीं कर पाए थे।
  • रमेश सिप्पी की बॉलवुड फिल्म ‘शक्ति’ में भी राज बब्बर को रोल दिया गया था और फिर उस रोल को बाद में अमिताभ बच्चन को दे दिया गया था, क्योंकि निर्देशक को लगा की अमिताभ बच्चन उनसे ज्यादा बेहतर थे।
  • उन्होंने अपने जीवन में दो शादी की थी, पहली शादी 1975 में मशहूर थिएटर आर्टिस्ट और फिल्म निर्देशक नादिरा बब्बर से की थी जबकि दूसरी शादी 198 में मशहूर अभिनेत्री स्मिता पाटिल से की थी।
  • स्मिता पाटिल के साथ विवाह करने के बाद जब उन्होंने अपने घर में बताया तो उनके माता-पिता ने इस बात पर एतराज जताते हुए कहा कि तुमको घर और स्मिता पाटिल दोनों में से किसी एक को चुनना होगा, जिसके बाद राज बब्बर ने अपना घर छोड़ दिया।
  • वर्ष 1986 में, स्मिता पाटिल के देहांत के बाद वह फिर से अपनी पहली पत्नी नादिरा के साथ रहने लग गए थे।
  • वह मुलायम सिंह यादव के काफी नजदीक थे। वर्ष 1994 में पहली बार मुलायम सिंह ने ही उन्हे राज्यसभा का सांसद बनाया था। यही नहीं मुलायम सिंह ने ही वर्ष 1996 के लोकसभा चुनाव में उन्हें पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के खिलाफ लखनऊ लोकसभा सीट लड़ने की सलाह दी थी।
  • कुछ सुत्रों के अनुसार अमर सिंह की वजह से राज बब्बर और मुलायम सिंह के बीच दूूरियां बानी थीं। अमर सिंह की वजह से राज बब्बर खुद को पार्टी में असहज महसूस करने लगे थे, उन्होंने सार्वजनिक तौर पर अमर सिंह को “दलाल” कहा था।
  • वर्ष 2006 में उन्होंने समाजवादी पार्टी को छोड़ दिया और इसके दो साल बाद वह कांग्रेस पार्टी में शामिल हो गए।
  • वर्ष 2009 में, उनका सबसे चर्चित चुनाव फिरोजाबाद की सीट को लेकर रहा, यादवों के राज गढ़ में राज बब्बर ने मुलायम सिंह यादव की बहू डिंपल यादव को मात देकर सबको चौंका दिया था।
  • वर्ष 2014 में, उन्होंने हिंदी टीवी शो “पुकार-कॉल फॉर द हीरो” में अभिनय किया।  पुकार
  • वर्ष 2014 में लोकसभा चुनावों में राज बब्बर के समूह के कार्यकर्त्ता इमरान मसूद ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ भड़काऊ भाषण दिया था। उन्होंने कहा था कि- मोदी यूपी को गुजरात न समंझें। गुजरात में सिर्फ 4 फीसदी मुसलमान हैं, जबकि यूपी में 42 फीसदी। यदि मोदी ने यूपी को गुजरात बनाने की कोशिश की तो यहां के मुसलमान मोदी को कड़ा सबक सिखाएंगे और उनकी बोटी-बोटी काट देंगे।

  • वर्ष 2014 में उन्होंने गाजियाबाद से लोकसभा के लिए चुनाव लड़ा, जिसमें वह बीजेपी नेता वी के सिंह से चुनाव में हार गए थे।
विज्ञापन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *