Menu

Manoj Kumar Biography in Hindi | मनोज कुमार जीवन परिचय

मनोज कुमार

विज्ञापन

जीवन परिचय
वास्तविक नाम हरिकृष्णा गिरी गोस्वामी (जन्म से)
उपनाम भारत कुमार
व्यवसाय अभिनेता और निर्देशक
शारीरिक संरचना
लम्बाई (लगभग)से० मी०- 178
मी०- 1.78
फीट इन्च- 5’ 10”
वजन/भार (लगभग)85 कि० ग्रा०
आँखों का रंग काला
बालों का रंग काला
व्यक्तिगत जीवन
जन्मतिथि 24 जुलाई 1937
आयु (2017 के अनुसार)80 वर्ष
जन्मस्थान एबटाबाद, उत्तर-पश्चिमी फ्रंटियर प्रांत, ब्रिटिश भारत
(अब खैबर पख्तुनख्वा, पाकिस्तान में)
राशि कर्क
राष्ट्रीयता भारतीय
गृहनगर दिल्ली, भारत
स्कूल/विद्यालय ज्ञात नहीं
महाविद्यालय/विश्वविद्यालयहिन्दू महाविद्यालय, दिल्ली विश्वविद्यालय
शैक्षिक योग्यता स्नातक
डेब्यू फिल्म (अभिनेता) - फैशन (1957)
फैशन (1957)
फिल्म (निर्देशक)- उपकार (1967)
उपकार (1967)
परिवार पिता - एच.एल. गोस्वामी
माता- कृष्णा कुमारी गोस्वामी
भाई- राजीव गोस्वामी
बहन- नीलम गोस्वामी
धर्म हिन्दू
शौक/अभिरुचिसंगीत सुनना और गायन करना
विवाद वर्ष 2007 में, मनोज कुमार तब सुर्ख़ियों में आए जब फिल्म ओम शांति ओम में उनकी छवि का मजाक उड़ाया गया था। तब मनोज कुमार ने फिल्म के निर्माता शाहरुख़ खान और निर्देशक फ़राह खान पर मानहानि का केस दर्ज किया।
पसंदीदा चीजें
पसंदीदा अभिनेता दिलीप कुमार और अशोक कुमार
पसंदीदा अभिनेत्री कामिनी कौशल
प्रेम संबन्ध एवं अन्य
वैवाहिक स्थिति विवाहित
गर्लफ्रेंड व अन्य मामले कोई नहीं
पत्नीशशि गोस्वामी
मनोज कुमार अपनी पत्नी के साथ
बच्चे बेटी - कोई नहीं
बेटा - विशाल गोस्वामी
मनोज कुमार अपने बेटे विशाल गोस्वामी के साथ
कुणाल गोस्वामी
कुणाल गोस्वामी

मनोज कुमार

विज्ञापन

मनोज कुमार से जुड़ी कुछ रोचक जानकारियाँ

  • क्या मनोज कुमार धूम्रपान करते हैं ? ज्ञात नहीं
  • क्या मनोज कुमार शराब पीते हैं ? ज्ञात नहीं
  • मनोज कुमार का जन्म एक ब्राह्मण परिवार में हुआ था। जब वह 10 वर्ष के थे, तब उनके परिवार ने एबटाबाद, पाकिस्तान को छोड़ दिया और दिल्ली चले गए।
  • वह अपने परिवार के साथ भारत विभाजन के समय आए, उस समय उनका परिवार विजय नगर के किंग्सवे कैंप में शरणार्थियों के रूप में रहा और बाद में नई दिल्ली के पुराने राजेंद्र नगर में चला गया।
  • बचपन से ही वह दिलीप कुमार और अशोक कुमार से प्रेरित थे। जिसके चलते उन्होंने अपना नाम मनोज कुमार रखने का फैसला किया। हालांकि, उनका वास्तविक नाम हरिकृष्णा गिरी गोस्वामी था।
  • मनोज कुमार का अभिनय करियर वर्ष 1957 की फ़िल्म फ़ैशन से शुरू हुआ, जिसमें उन्होंने एक 80 वर्षीय व्यक्ति की भूमिका निभाई थी।
  • वर्ष 1965 की फिल्म शहीद के बाद मनोज कुमार की छवि एक देशभक्त के रूप में स्थापित हो गई। यह फिल्म स्वतंत्रता सेनानी भगत सिंह के जीवन पर आधारित थी। फिल्म शहीद
  • वर्ष 1965 में भारत-पाक युद्ध के बाद, भारत के तत्कालीन प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री ने उन्हें एक लोकप्रिय नारा “जय जवान जय किसान” के आधार पर एक फिल्म बनाने के लिए कहा। जिसके चलते उन्होंने वर्ष 1967 में “उपकार” फिल्म को निर्देशित किया, जिसमें उन्होंने एक सैनिक और एक किसान की भूमिका निभाई थी।
  • उन्हें फिल्म उपकार के लिए सर्वश्रेष्ठ निर्देशक फिल्मफेयर पुरस्कार से सम्मानित किया गया। फिल्म उपकार
  • वर्ष 1981 में, उन्होंने फिल्म क्रांति का निर्देशन किया। फिल्म बॉक्स ऑफिस पर सुपर हिट रही थी। परन्तु इसके बाद उनके फिल्म करियर का ग्राफ तेज़ी से गिरने लगा, क्योंकि उनकी फिल्में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर रही थीं।
  • उन्हें कई देशभक्ति भूमिकाएं निभाने के लिए “भारत कुमार” के नाम से भी पुकारा जाता है।
  • वर्ष 1989 में, पाकिस्तानी अभिनेताओं को कास्ट करने वाले वह पहले भारतीय निर्देशक हैं।
  • वर्ष 1992 में, उन्हें भारत सरकार द्वारा पद्म श्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
  • वर्ष 1995 में, उन्होंने अभिनय करना छोड़ दिया। उन्होंने वर्ष 1995 की फिल्म “मैदान-ए-जंग” में आखिरी बार अभिनय किया था।
  • वर्ष 2004 से पहले यह घोषणा की गई, कि मनोज कुमार शिवसेना में शामिल हुए थे।
  • वर्ष 2016 में, फिल्मजगत में महत्वपूर्ण योगदान देने के लिए भारत सरकार द्वारा मनोज कुमार को दादासाहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया गया। मनोज कुमार राष्ट्रपति से दादासाहेब फाल्के पुरस्कार ग्रहण करते हुए
विज्ञापन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *