Menu

P V Sindhu Biography in Hindi | पी. वी. सिंधु जीवन परिचय

पी. वी. सिंधु

विज्ञापन

जीवन परिचय
वास्तविक नाम पुसरला वेंकट सिंधु
व्यवसाय भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी
शारीरिक संरचना
लम्बाई (लगभग)से० मी०- 179
मी०- 1.79
फीट इन्च- 5' 10”
वजन/भार (लगभग)65 कि० ग्रा०
शारीरिक संरचना (लगभग)34-26-36
आँखों का रंग काला
बालों का रंग काला
बैडमिंटन
अंतर्राष्ट्रीय डेब्यू वर्ष 2009 में, उप-जूनियर एशियाई बैडमिंटन चैंपियनशिप में कोलंबो में
कोच/संरक्षकपुलेला गोपीचंद
हाथ का इस्तेमालदाहिना
पदक (मुख्य)• सिंधु ने कोलंबो में आयोजित वर्ष 2009 के उप-जूनियर एशियाई बैडमिंटन चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता।
• वर्ष 2010 में, ईरान फज्र अंतर्राष्ट्रीय बैडमिंटन चैलेंज में महिला एकल में रजत पदक जीता।
• 7 जुलाई 2012 को, उन्होंने एशिया युवा अंडर -19 चैम्पियनशिप जीती।
• वर्ष 2013 में, मलेशियन ओपन के दौरान उनके प्रदर्शन के लिए उन्हें ग्रैंड प्रिक्स गोल्ड खिताब से नवाजा गया।
• वर्ष 2013 और 2014 में लगातार विश्व चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता।
• वर्ष 2016 में, गुवाहाटी दक्षिण एशियाई खेलों (महिला टीम) में स्वर्ण पदक जीता।
• वर्ष 2016 में, रियो ओलंपिक में रजत पदक जीता।
कैरियर टर्निंग प्वाइंटवर्ष 2011 में, डगलस कॉमनवेल्थ यूथ गेम्स में स्वर्ण पदक जीता
सबसे ऊंची रैंकिंग9 वीं (मार्च 2014)
व्यक्तिगत जीवन
जन्मतिथि 5 जुलाई 1995
आयु (2017 के अनुसार)22 वर्ष
जन्मस्थान हैदराबाद, आंध्र प्रदेश, भारत
राशि कर्क
राष्ट्रीयता भारतीय
गृहनगर हैदराबाद, आंध्र प्रदेश, भारत
स्कूल/विद्यालय औक्सिलियम हाई स्कूल, सिकंदराबाद
महाविद्यालय/विश्वविद्यालयसेंट एन के महिला कॉलेज, मेहदीपटनम
शैक्षिक योग्यता एम.बी.ए
परिवार पिता - पी. वी. रमण
माता - पी. विजया
बहन- पी. वी. दिव्या
पी. वी. सिंधु अपने परिवार के साथ
भाई - कोई नहीं
धर्म हिन्दू
शौक/अभिरुचिफिल्में देखना
पसंदीदा चीजें
पसंदीदा अभिनेतामहेश बाबू, प्रभास, ऋतिक रोशन
पसंदीदा व्यंजनबिरयानी, चाइनीज और इटैलियन व्यंजन
प्रेम संबन्ध एवं अन्य जानकारियां
वैवाहिक स्थिति अविवाहित
बॉयफ्रैंड्स एवं अन्य मामलेज्ञात नहीं
पतिलागू नहीं
बच्चेकोई नहीं

पी. वी. सिंधु

विज्ञापन

पी. वी. सिंधु से जुड़ी कुछ रोचक जानकारियाँ

  • क्या पी. वी. सिंधु धूम्रपान करती हैं ? नहीं
  • क्या पी. वी. सिंधु शराब पीती हैं ? ज्ञात नहीं
  • उन्होंने सिकंदराबाद में भारतीय रेलवे संस्थान से मेहबूब अली के मार्गदर्शन पर बैटमिंटन की बारीकियां सीखी। बाद में वह पुलेला गोपीचंद की बैडमिंटन अकादमी में शामिल हो गई, और उनसे परीक्षण लेने लग गई। उल्लेखनीय रूप से, गोपीचंद इंडियन बैडमिंटन टीम के मुख्य कोच भी हैं।
  • सिंधु एक मेहनती खिलाड़ी हैं। वह अपने दिनचर्या का सख्ती से पालन करती हैं और वह हर सुबह 4:15 पर बैडमिंटन का अभ्यास शुरू कर देती हैं।
  • वर्ष 2014 में, एनडीटीवी द्वारा उन्हें “Indian of the year” घोषित किया गया था।
  • सिंधु के माता-पिता पूर्व वॉलीबॉल खिलाड़ी हैं।
  • वर्ष 2000 में, उनके पिता पी. वी. रमण को राष्ट्रीय वॉलीबॉल के प्रति अपने योगदान के लिए अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
  • वर्ष 2012 में, ली निंग चीन मास्टर्स सुपर सीरीज प्रतियोगिता में उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रहा, जब उन्होंने वर्ष 2012 के लंदन ओलंपिक के स्वर्ण पदक विजेता चीन की ली जुइरेई (Li Xuerui) को हरा दिया।
  • 30 मार्च 2015 को, उन्हें भारत के चौथे उच्चतम नागरिक सम्मान पद्म श्री से सम्मानित किया गया।    पी. वी. सिंधु पद्म श्री पुरस्कार प्राप्त करती हई
विज्ञापन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *