Menu

Myra Vishwakarma (Pihu) Biography in Hindi | मायरा विश्वकर्मा (पीहू) जीवन परिचय

मायरा विश्वकर्मा

विज्ञापन

जीवन परिचय
उपनाम पीहू
व्यवसाय बाल कलाकार (अभिनेत्री)
शारीरिक संरचना
आँखों का रंग काला
बालों का रंग काला
करियर
डेब्यू फिल्म (अभिनेत्री) : पीहू
पीहू
व्यक्तिगत जीवन
जन्मतिथि 17 नवंबर 2012
आयु (वर्ष 2018 के अनुसार)6 वर्ष
जन्मस्थान नोएडा, उत्तर प्रदेश, भारत
राशि वृश्चिक
राष्ट्रीयता भारतीय
गृहनगर अंबिकापुर, छत्तीसगढ़, भारत
स्कूल दिल्ली पब्लिक स्कूल नोएडा, उत्तर प्रदेश
कॉलेज लागू नहीं
शैक्षणिक योग्यता नर्सरी
धर्म हिन्दू
शौक/अभिरुचि नृत्य करना, गीत गाना
परिवार
माता-पिता पिता - रोहित विश्वकर्मा
माता - प्रेरणा शर्मा
मायरा विश्वकर्मा के माता-पिता
भाई-बहन भाई - 1 (नाम ज्ञात नहीं)
मायरा विश्वकर्मा का भाई
बहन - लागू नहीं
पसंदीदा चीजें
पसंदीदा अभिनेता सलमान खान
पसंदीदा व्यंजनचॉकलेट

मायरा विश्वकर्मा

विज्ञापन

मायरा विश्वकर्मा से जुड़ी कुछ रोचक जानकारियाँ

  • वह अंबिकापुर (छत्तीसगढ़) के विश्वकर्मा परिवार से ताल्लुक रखती हैं।

    मायरा विश्वकर्मा

    मायरा विश्वकर्मा

  • 17 नवंबर, 2013 को जब मायरा विश्वकर्मा एक साल की हुई, तब उनके परिवार वालों ने मायरा के एक साल के होने की खुशी में एक भव्य बर्थडे पार्टी रखी थी।

    मायरा विश्वकर्मा बर्थडे पार्टी

    मायरा विश्वकर्मा बर्थडे पार्टी

  • वह नोएडा के दिल्ली पब्लिक स्कूल में  पढ़ती हैं।

    मायरा विश्वकर्मा स्कूल जाती हुईं

    मायरा विश्वकर्मा स्कूल जाती हुईं

  • मायरा विश्वकर्मा ने 2 वर्ष की उम्र में अभिनय जगत में कदम रखा, क्योकिं वह बहुत छोटी थी, इसलिए वह डायरेक्टर विनोद कापड़ी द्वारा दिए गए डायरेक्शन को नहीं समझ पा रही थी। इसी वजह से फिल्म “पीहू” में उनके माता पिता के किरदार को मायरा के असली माता पिता से करवाया गया।
  • “पीहू” फिल्म की कहानी सुनकर कई प्रोड्यूसरों ने फिल्म में पैसे लगाने से इंकार कर दिया था, तब कृष्ण कुमार ने इस फिल्म के लिए ₹ 47 लाख लगाए। इस बजट में फिल्म को पूरा कर पाना बहुत मुश्किल था, और कुछ समय बाद कृष्ण कुमार को दिल का दौरा पड़ने से मृत्यु हो गई।
  • “पीहू” फिल्म के लेखक और निर्देशक विनोद कापड़ी को डॉक्युमेंट्री फिल्म “Can’t Take This Shit Anymore” के लिए नेशनल अवार्ड भी मिल चुका है।
  • वर्ष 2015 में कापड़ी ने एक भैंस के रेप पर एक फिल्म “Miss Tanakpur Haazir Ho” बनाई थी, जिसे समीक्षकों ने काफी सराहा था।
  • वर्ष 2017 में पीहू फिल्म की स्क्रीनिंग गोवा फिल्म महोत्सव, स्प्रिंग्स इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल और वैंकुवर इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में करवाई गई।
  • “पीहू” फिल्म को मोरक्को के जगोरा में 14वें ट्रांस-सहारा इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में दो अवार्ड मिले, पहला अवार्ड इंटरनेशनल कैटेगरी में बेस्ट फीचर फिल्म का और दूसरा पीपुल्स च्वॉइस अवार्ड।
  • वर्ष 2018 में, जब असमी भाषा की फिल्म “Village Rockstars” को भारत की और से ऑस्कर अवार्ड्स के लिए नामांकित किया गया था, तो 27 फिल्मों की उस लिस्ट में “पीहू” भी एक थी।
  • “पीहू” फिल्म की शूटिंग करीब 40-45 दिन में पूरी की गई थी।

विज्ञापन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *