Menu

B. S. Yeddyurappa Biography in Hindi | बी॰ एस॰ येदियुरप्पा जीवन परिचय

बी॰ एस॰ येदियुरप्पा

विज्ञापन

जीवन परिचय
वास्तविक नाम बूकानाकेरे सिद्धलिंगप्पा येदियुरप्पा
व्यवसाय भारतीय राजनेता
पार्टी/दल भारतीय जनता पार्टी
भारतीय जनता पार्टी झंडा
राजनीतिक यात्रा • वर्ष 1965 में, वह आरएसएस में एक कार्यकर्ता के रूप में शामिल हुए।
• वर्ष 1972 में, उन्हें शिकारीपुरा टाउन नगर पालिका के सद्स्य के रूप में नियुक्त किया गया।
• वर्ष 1975 में, वह जनसंघ की तालुक इकाई के अध्यक्ष के रूप में चुने गए।
• वर्ष 1985 में, वह बीजेपी की शिमोगा इकाई के अध्यक्ष बने।
• वर्ष 1988 में, उन्हें कर्नाटक राज्य के भाजपा अध्यक्ष के रूप में निर्वाचित किया गया।
बी. एस. येदियुरप्पा नरेंद्र मोदी के साथ
• वर्ष 1994 के विधानसभा चुनावों में वह कर्नाटक विधानसभा के विपक्ष के नेता बने।
• वर्ष 1999 में, वह चुनाव हार गए, लेकिन फिर भी उन्हें विपक्ष का नेता नियुक्त किया गया।
• वर्ष 2007 में, वह कर्नाटक के मुख्यमंत्री बने और वर्ष 2011 में इस्तीफा दे दिया।
• वर्ष 2018 में, उन्होंने कर्नाटक के 23 वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण की।
 येदियुरप्पा 23 वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण करते हुए
मुख्य प्रतिद्वंदीकांग्रेस नेता सिद्धारमैया
शारीरिक संरचना
लम्बाई से० मी०- 170
मी०- 1.70
फीट इन्च- 5’ 7”
वजन/भार (लगभग)70 कि० ग्रा०
आँखों का रंग काला
बालों का रंग सफ़ेद
व्यक्तिगत जीवन
जन्मतिथि 27 फरवरी 1943
आयु (2018 के अनुसार)75 वर्ष
जन्मस्थान मांड्या जिले के बुक्कनकेरे, भारत
राशि मीन
हस्ताक्षर बी॰ एस॰ येदियुरप्पा हस्ताक्षर
राष्ट्रीयता भारतीय
गृहनगर बुक्कनकेरे, भारत
स्कूल/विद्यालय पीईएस कॉलेज, मंड्या, कर्नाटक
महाविद्यालय/विश्वविद्यालयकोई नहीं
शैक्षिक योग्यता 12 वीं पास
धर्म हिन्दू
जाति/समुदाय लिंगायत समुदाय
पता मिथ्री निवासा, मालरकेरी, शिकारीपुरा, कर्नाटक
पुरस्कार इंडिया टुडे द्वारा उन्हें कानून और व्यवस्था श्रेणी में "Fastest Mover Award" से सम्मानित किया गया
विवाद • वर्ष 2004 में, सूत्रों के मुताबिक बी.एस. येदियुरप्पा और शोभा करंदलाजे (लोकसभा सांसद, बीजेपी) के मध्य संबंध थे।
• वह विवादों में तब आए जब उन्होंने एक दलित परिवार के घर किसी होटल से भोजन आर्डर कर के खाया।
बी॰ एस॰ येदियुरप्पा दलित परिवार के घर भोजन करते हुए
• बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा उस समय एक नए विवाद में घिर गए, जब उन्होंने मैसूर के पास गुंडूलपेट विधानसभा क्षेत्र के वडरा होसहल्ली गांव में एक महिला को एक लाख रुपए की नगद सहायता राशि दी, क्योंकि उस महिला के पति ने कर्ज के बोझ तले खुदखुशी कर ली थी। उस समय वहाँ विधानसभा उपचुनाव का मतदान होना था। जिसके चलते उन पर यह आरोप लगा कि उन्होंने चुनाव आयोग द्वारा लागू की गई आदर्श आचार संहिता की उल्लंघना की है।
• वर्ष 1975 में, उन्हें आपातकालीन अवधि के दौरान शिमोगा और बेल्लारी से 45 दिनों के लिए गिरफ्तार किया गया था।
बी॰ एस॰ येदियुरप्पा गिरफ्तारी के दौरान
प्रेम संबन्ध एवं अन्य जानकारियां
वैवाहिक स्थिति विवाहित
विवाह तिथि वर्ष 1967
परिवार
पत्नीमित्रदेवी
बी॰ एस॰ येदियुरप्पा अपनी पत्नी के साथ
बच्चे बेटा - बी वाई राघवेंद्र और विजयेंद्र
बी॰ एस॰ येदियुरप्पा अपने बेटों के साथ
बेटी - अरूणादेवी, पद्मावती और उमादेवी
बी॰ एस॰ येदियुरप्पा अपने परिवार के साथ
माता - पिता पिता - सिद्धलिंगप्पा
माता - पुट्टतायम्मा
भाई - बहन भाई - कोई नहीं
बहन - पी एस प्रेमा
बी॰ एस॰ येदियुरप्पा अपनी बहन के साथ
पसंदीदा चीजें
पसंदीदा राजनेताअटल बिहारी वाजपेयी, नरेंद्र मोदी
धन संबंधित विवरण
कार संग्रह टोयोटा लैंड क्रूजर प्राडो
बी॰ एस॰ येदियुरप्पा कार
आय (कर्नाटक के विधायक के रूप में)₹98000 + अन्य भत्ते
संपत्ति (लगभग)₹7 करोड़ (2014 के अनुसार)

बी॰ एस॰ येदियुरप्पा

बी॰ एस॰ येदियुरप्पा से जुड़ी कुछ रोचक जानकारियाँ

  • क्या बी॰ एस॰ येदियुरप्पा धूम्रपान करते हैं ?: नहीं
  • क्या बी॰ एस॰ येदियुरप्पा शराब पीते हैं ?: ज्ञात नहीं
  • बी एस येदियुरप्पा का नाम शैव मंदिर के नाम पर रखा गया था, जिसे तुम्कर जिले के येदियुर में एक संत सिद्दीलिंगेश्वर ने बनाया था।
  • जब वह चार वर्ष के थे, तब उनकी माँ का निधन हो गया था।
  • अपने स्कूली दिनों में वह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े हुए थे। बी॰ एस॰ येदियुरप्पा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ में
  • 12 वीं तक शिक्षा प्राप्त करने के बाद उन्होंने पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी।
  • वर्ष 1965 में, उन्हें सामाजिक कल्याण विभाग में प्रथम श्रेणी के क्लर्क के रूप में नियुक्त किया गया, लेकिन बहुत जल्द ही उन्होंने उस नौकरी को छोड़ दिया, क्योंकि वह शिकारीपुर चले गए थे और वहां एक चावल मिल में एक क्लर्क के रूप में कार्य करने लगे।
  • वर्ष 1967 में, उन्होंने चावल मिल के मालिक वीरभद्र शास्त्री की पुत्री मैत्रादेवी से शादी कर ली।
  • कुछ दिन बाद, उन्होंने शिमोगा में हार्डवेयर की दुकान खोली।
  • वर्ष 2004 में, पानी लाने के दौरान एक दुर्घटना में उनकी पत्नी का रहस्यमय ढंग से निधन हो गया था।

विज्ञापन
  • वर्ष 1970 में, उन्हें संघ की शिकारीपुर इकाई के सचिव के रूप में नियुक्त किया गया।
  • बी एस येदियुरप्पा कर्नाटक के सातवीं, आठवीं, नौवीं, दसवीं, बारहवीं और तेरहवीं विधान सभा (निचली सदन) के सदस्य रहे हैं।
  • वर्ष 2008 में, वह कर्नाटक के 19 वें मुख्यमंत्री बने और 30 मई 2008 से 31 जुलाई 2011 तक उन्होंने कार्य किया।
  • वर्ष 2016 में, उन्हें चौथी बार कर्नाटक में बीजेपी की अध्यक्षता की जिम्मेदारी सौंपी गई थी।
  • वर्ष 2011 में, उन्हें 21 दिनों के लिए भ्रष्टाचार के आरोप में गिरफ्तार किया गया था।
  • उनके बेटे की कार के द्वारा एक पैदल यात्री की मौत हो गई थी, पुलिस के अनुसार चालक (रविकुमार) को तेज रफ्तार से गाड़ी चलने के आरोप में गिरफ्तार किया गया। येदियुरप्पा के बेटे की कार
  • वर्ष 2018 कर्नाटक विधानसभा चुनावों के लिए भाजपा ने मुख्यमंत्री पद के लिए बी एस येदियुरप्पा की घोषणा की।

विज्ञापन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *